[सुनिए] अमीर ख़ुसरो: ईदगाह-ए-मा ग़रीबाँ कूए तो | عیدگاه ما غریبا‌ن کوی تو

हज़रत अमीर ख़ुसरो ने यह कलाम अपने मुर्शिद (Spiritual Master) हज़रत निज़ामुद्दीन औलिया की शान में लिखा है. ईद के मौक़े पर अवाम इण्डिया

Read more
Page 2 of 1612345...10...Last »