इस्लाम में एकेश्वरवाद का बहुमूल्य संदेश और ज़कात | विनोबा भावे

इस्लाम का एकेश्वर (तौहीद) का संदेश भी बहुमूल्य है। सूफ़ी संत और फ़कीर महाराष्ट्र में भी गाँव – गाँव घूमते हुए, “ईश्वर एक है

Read more

इस्लाम में ब्याजखोरी का तीव्र निषेध -विनोबा भावे

इस्लाम ने ब्याजखोरी का भी तीव्र निषध किया है । सिर्फ़ चोरी न करना इतना ही नहीं, आपकी आजीविका भी शुद्ध होनी चाहिए ।

Read more

इस्लाम का पैगाम: धर्म की बाबत जबरदस्ती कत्तई नहीं की जा सकती | विनोबा भावे

सारांश यह है कि इस्लाम का यह सच्चा स्वरूप है । इसे ठीक – ठीक पहचानना चाहिए और उसका सार ग्रहण कर लेना चाहिए

Read more

इस्लाम की असल पहचान : मानव-मानव का नाता बराबरी का है | विनोबा भावे

यह निर्विवाद हकीकत है कि आरंभिक ज़माने में इस्लाम का प्रचार त्याग और कसौटी पर ही हुआ । प्रारंभ में इस्लाम का प्रचार तलवार

Read more

टीपू सुलतान प्रतिदिन नाशता करने से पहले रंगनाथ जी के मंदिर में जाते थे -प्रोफेसर बी. एन. पाण्डेय

अंग्रेज़ों ने भारत पर शासन करने के लिए ‘बांटो और राज करो’ की नीति अपनाई। इसी नीति के तहत अंग्रेज़ इतिहासकारों ने भारत में

Read more