इस्लाम में एकेश्वरवाद का बहुमूल्य संदेश और ज़कात | विनोबा भावे

इस्लाम का एकेश्वर (तौहीद) का संदेश भी बहुमूल्य है। सूफ़ी संत और फ़कीर महाराष्ट्र में भी गाँव – गाँव घूमते हुए, “ईश्वर एक है

Read more

इस्लाम में ब्याजखोरी का तीव्र निषेध -विनोबा भावे

इस्लाम ने ब्याजखोरी का भी तीव्र निषध किया है । सिर्फ़ चोरी न करना इतना ही नहीं, आपकी आजीविका भी शुद्ध होनी चाहिए ।

Read more

इस्लाम का पैगाम: धर्म की बाबत जबरदस्ती कत्तई नहीं की जा सकती | विनोबा भावे

सारांश यह है कि इस्लाम का यह सच्चा स्वरूप है । इसे ठीक – ठीक पहचानना चाहिए और उसका सार ग्रहण कर लेना चाहिए

Read more

इस्लाम की असल पहचान : मानव-मानव का नाता बराबरी का है | विनोबा भावे

यह निर्विवाद हकीकत है कि आरंभिक ज़माने में इस्लाम का प्रचार त्याग और कसौटी पर ही हुआ । प्रारंभ में इस्लाम का प्रचार तलवार

Read more

टीपू सुलतान प्रतिदिन नाशता करने से पहले रंगनाथ जी के मंदिर में जाते थे -प्रोफेसर बी. एन. पाण्डेय

अंग्रेज़ों ने भारत पर शासन करने के लिए ‘बांटो और राज करो’ की नीति अपनाई। इसी नीति के तहत अंग्रेज़ इतिहासकारों ने भारत में

Read more
Page 4 of 41234